Breaking News

हसरत जयपुरी, एक ऐसा शायर जिसकी शायरी में इश्क था

वो अपने चेहरे में सौ आफ़ताब रखते हैं इसीलिये तो वो रुख़ पे नक़ाब रखते हैं — हसरत जयपुरी आज है  पूण्य तिथि सलाम प्यार को , चाहत को , मेहरबानी को , सलाम जुल्फ को खुशबु की कामरानी को सलाम सलाम गाल के तिलों को जो दिलो की मंजिल Continue Reading