Breaking News

भारत मे जाति प्रथा, बाबा साहब का एक विशेष लेख

भारत में जातिप्रथा —————— भीमराव आम्बेडकर मैं निःसंकोच कह सकता हूं कि हममें से बहुत लोगों ने स्थानीय, राष्ट्रीय या अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय देखे होंगे, जो सभ्यता का समग्र रूप प्रस्तुत करते हैं। इस बात पर कुछ लोगों को ही विश्वास आएगा कि संसार में मानव संस्थाओं का प्रदर्शन भी होता Continue Reading